Pages

RSS

Saturday, May 8, 2010

गद गद हो गई


एक दिन अध्यापक ने सभी विद्यार्थियों को कहा - 'गद गद होना' इस मुहावरे का वाक्य बनाओ।
अध्यापक ने गोलु से पूछा तो उसने बताया -'सालों बाद बेटे को देखकर माँ गद गद हो गई'।
गोलु के नकलची मोलु ने पड़ते ही कहा, 'नहीं... !! बेटे को देखते ही माँ पैड़ियों में गद गद* हो गई।'
.
.
.
* गद से गिरना ( जोर से गिरना)
पीएस नोट - तस्वीर इन्टरनेट से ली गई एक क्लिप आर्ट है।

4 comments:

Babli said...

बहुत सुन्दर, रोचक और मज़ेदार लगा!

Nisha said...

Thanks a lot Babli or say Urmi for visit n response.. I wonder how do u run so many blogs.. ur shayari n poetry is very nice.

संजय भास्कर said...

बढ़िया प्रस्तुति पर हार्दिक बधाई.
ढेर सारी शुभकामनायें.

संजय कुमार
हरियाणा
http://sanjaybhaskar.blogspot.com

http://friendsforeverinlov.blogspot.in/ said...

Miscellaneous Shayari 2014 Latest shayari for free to copy & download the Latest HD wallpapers for free download Only On Fun & Shayari .........